Hello Everyone. ????????

This is my new poetry.
This poetry is for motivating people to be self confident and to tell that how people think when they want to be get up on their own.????

I hope you like it.
If you like my poetry, plz do like, comment, share and subscribe my channel and if not then please recommend me how can I improve. ????

Thank You so much. ????

अपनी मर्जी के मुताबिक जीना चाहती हूं मैं,
तो हां क्या गलत चाहती हूं मैं!!

मेरी मर्जी है कि मैं आत्मनिर्भर बनू,
करूं अपने मन की भले ही सबकी सुनू|
किसी और पर आश्रित नहीं रहना चाहती हूं मैं ,
तो हां क्या गलत चाहती हूं मैं!!

अपने मां-बाप का सहारा खुद बनूंगी मैं ,
अपने घर की देखभाल खुद करूंगी मैं|
मां बाप पर बोझ नहीं बनना चाहती हूं मैं,
तो हां क्या गलत चाहती हूं मैं!!

मुझे करनी है मेहनत करने है पूरे कुछ सपने,
पर सपने ही नहीं मुझे प्यारे भी है मेरे अपने|
ना अपनों को छोड़ना और
ना सपनों को तोड़ना चाहती हूं मैं,
तो हां क्या गलत चाहती हूं मैं!!

अपनी मर्जी के मुताबिक जीना चाहती हूं मैं,
तो हां क्या गलत चाहती हूं मैं!!

#self_confidence #poetry #poem #quote #life #self_dependent # मर्जी